---Advertisement---

उत्तराखंड में नहीं थम रहे सड़क हादसे, रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत

By Patrika News Desk

Published on:

उत्तराखंड में नहीं थम रहे सड़क हादसे, रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत
---Advertisement---

उत्तराखंड के पर्वतीय मार्गों पर सड़क दुर्घटना के मामले थम नहीं रहे हैं। स्थिति या हो गई कि प्रतिदिन दो या तीन सड़क दुर्घटनाओं के मामले सामने आ रहे हैं। अभी तीन दिन पहले उत्तरकाशी में गंगोत्री से लौट रही बस गंगनानी के समीप अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई जिसमें तीन महिलाओं की मौत हो गई थी। वहीं शनिवार को रुद्रप्रयाग में बदरीनाथ हाईवे पर एक टेंपो ट्रेवल अनियंत्रित होकर अलकनंदा नदी में जा समाया। इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई, जबकि कुछ जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: आग की चपेट में आने से 4 वनकर्मियों की दर्दनाक मौत

जानकारी के मुताबिक 26 यात्रियों को लेकर एक टेंपो ट्रेवलर रात को दिल्ली से चला था। तीन ड्राइवर और 23 यात्रियों का यह हड़ताल चोपड़ा तुंगनाथ में ट्रेकिंग के लिए निकला था जिसमें नोएडा और अन्य दूसरी शहर के रहने वाले लोग शामिल थे। बताया जा रहा है कि इस दल में शामिल कई लोग की सफर पर जा रहे थे उसके बारे में उनके परिवार के सदस्यों और दोस्तों को भी जानकारी नहीं थी।

14 लोगों की मौत

शनिवार सुबह करीब 11:30 बजे रुद्रप्रयाग शहर से 5 किलोमीटर आगे बदरीनाथ हाईवे पर रैतोली के पास टेंपो ट्रेवलर सड़क किनारे लगे पैराफिट तोड़कर अलकनंदा नदी में गिर गया। समीप में रेलवे लाइन पर काम कर रहे तीन लोग उन्हें बचाने के लिए नदी में कूदे जिनमें से एक की मौत हो गई। हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई। फिलहाल हादसे का कारण ड्राइवर को नींद की झपकी आना बताया जा रहा है।

हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन जिला आपदा प्रबंधन समेत अन्य टीमों ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू कार्य शुरू किया। रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में हताहत हुए लोग अधिकतर 22 से 30 साल के बीच के हैं। गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को एयरलिफ्ट से एम्स ऋषिकेश लाया गया, जिनमें से अधिकतर बोलने की स्थिति में नहीं है।

सीएम धामी ने किया मुआवजे का ऐलान

रुद्रप्रयाग में हुई वाहन दुर्घटना को लेकर उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख, गंभीर रूप से घायलों को 40-40 हजार और सामान्य घायलों को 10-₹10 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा केंद्र सरकार ने भी रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में मारे गए लोगों को दो-दो लाख, घायलों को 50-50 हजार रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है।

Patrika News Desk  के बारे में
Patrika News Desk we are dedicated to celebrating and preserving the rich cultural heritage of the Pahari region.
For Feedback - contact@paharipatrika.in
---Advertisement---

1 thought on “उत्तराखंड में नहीं थम रहे सड़क हादसे, रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत”

Leave a Comment