Uttarakhand

उत्तरकाशी: रिसोर्ट में अमृता रावत की मौत पर करन माहरा ने सीएम से की यह मांग

उत्तरकाशी के रिजॉर्ट में अमृता रावत की मौत को लेकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर सक्षम अधिकारी से जांच करवाने की मांग की। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि युवती पिछले एक साल से रिजॉर्ट में काम कर रही थी और अचानक इस तरह का हादसा होना हत्या की आंशका व्यक्त करता है।

रिजॉर्ट में अमृता रावत की मौत

बताते चलें कि उत्तरकाशी जनपद के भटवाड़ी में संगमचट्टी क्षेत्र के भंकोली गांव निवासी 18 वर्षीय अमृता रावत पिछले एक साल से कफलों होमस्टे नौकरी कर रही थी। शुक्रवार को अमृता का शव संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटका हुआ मिला। परिजनों ने इसे हत्या का आंशका जताते हुए मामले की जांच की मांग की और मनेरी थाना में रिजॉर्ट मालिक अनिल कुड़ियाल समेत दो के खिलाफ तहरीर दी। जिसके बाद रिजॉर्ट मालिक अनिल कुड़ियाल व कुक मैन पंकज के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया।

यह भी पढ़ें- अमृता रावत केस: उत्तरकाशी जिला अस्पताल में परिजनों का हंगामा, शव उठाने से किया मना

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने अमृता रावत की मौत पर हत्या की आंशका प्रकट करते हुए सीएम धामी को पत्र लिखकर सक्षम अधिकारी से जांच करवाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि घटनास्थल से आए तस्वीरों में साफ दिख रहा है की युवती की हत्या की गई और फंदे पर लटकी युवती के पांव जमीन को छू रहे हैं जिसे उसकी हत्या को लेकर शक और भी बढ़ गया है। क्षेत्र की जनता द्वारा भी युवती की हत्या किए जाने की आंशका व्यक्त की गई है।

कानून का भय समाप्त

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि शासन प्रशासन की ओर से अपराधियों के खिलाफ समय पर कार्रवाई नहीं होने की वजह से अपराध करने वालों के हौसले बुलंद हो रहे हैं। राज्य में कानून व्यवस्था को पटरी मैं लाने के लिए कठोर कदम उठाए जाने की आवश्यकता है और उत्तरकाशी की बेटी अमता रावत की मौत को गंभीरता से लेकर अपराधियों को सख्त से सख्त सजा दिलाए जाने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए।

Related Articles