बड़ी खबर: स्थगित ‌हुआ चारधाम यात्रा का फैसला, जाने क्या है वजह

सोमवार को उत्तराखंड सरकार ने उत्तरकाशी रुद्रप्रयाग और चमोली जनपद के लोगों के लिए चार धाम यात्रा खोलने (CharDham Yatra) का आदेश दिया था। उत्तराखंड सरकार ने यह फैसला स्थगित कर दिया है।

यह भी पढ़ें- सीएम तीरथ सिंह रावत ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से राज्य में शिल्प कला से जुड़े विषयों पर की चर्चा

चार धाम यात्रा खोलने (CharDham Yatra) खोलने को लेकर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बताया कि चार धाम यात्रा को लेकर नैनीताल हाई कोर्ट (Nainital High Court) में सुनवाई चल रही है, और सरकार इस पर 16 जून के बाद विचार कर सकती है।

सोमवार को कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा था कि 3 जिले रुद्रप्रयाग, चमोली और उत्तरकाशी के निवासी जिले स्तर पर चारधाम यात्रा कर सकते हैं, हालांकि इसके लिए कोविड-19 rt-pcr नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य थी। ‌यह नियम चमोली जिले के यात्री बद्रीनाथ धाम के दर्शन, रुद्रप्रयाग जिले की केदारनाथ धाम के दर्शन और उत्तरकाशी जनपद के यात्री गंगोत्री तथा यमुनोत्री धाम के दर्शन करने का नियम बनाया था।

मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने फिलहाल यह फैसला स्थगित कर दिया है, जिसका कारण नैनीताल हाई कोर्ट (Nainital High Court ) में चल रही सुनवाई को भी माना जा रहा है। अब चारों धामों में केवल पुजारियों को पूजा अर्चना संबंधी गतिविधियां कर पाने की अनुमति है। वहीं सरकार 16 जून के बाद चारधाम यात्रा पर विचार कर सकती है।

[polldaddy poll=10858664]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *